11/10/2018 - वाराणसी - आरती सिंह

काशी विश्वनाथ मंदिर परिक्षेत्र में प्रवेश के लिए पास जारी रहेंगे

kashi vishwanath

वाराणसी: वाराणसी के सुप्रसिद्ध श्रीकाशी विश्वनाथ मंदिर परिक्षेत्र में बार कोड आधारित नया पास मंदिर की व्यवस्थाओं से जुड़े लोगों के लिए जारी किया जाएगा। इसके लिए मंदिर परिक्षेत्र में रहने वालों सहित रेड जोन से भी आवेदन की मांग की जा रही है। मंदिर प्रशासन द्वारा सत्यापन के बाद नए पास जारी कर दिए जाएंगे। साथ ही बता कि इस पास का डुप्लीकेट भी नहीं बनाया जा सकेगा।

ऑनलाइन पर व्यक्ति की होगी पूरी डिटेल

दुरुपयोग की शिकायतें पिछले दिनों के बाद सामने आई थीं। बार कोड आधारित पास जारी करने की योजना इसके बाद ही बनाई गई है। इसको एक बैंड के रूप में बनाया जा रहा है जिससे ऑनलाइन पर बार कोड के जरिए संबंधित व्यक्ति की पूरी डिटेल मौजूद होगी। साथ ही स्क्रीन पर बार कोड स्कैन करने के साथ ही समस्त जानकारी आ जाएगी। वहीं मंडलायुक्त दीपक अग्रवाल ने कहा कि नई व्यवस्था के तहत जारी होने वाले पास में जिस व्यक्ति को जारी किया जाएगा उसकी सभी डेटल चेक करने के उपरान्त ही उसे प्रवेश दिया जाएगा।

मंदिर कॉरिडोर निर्माण के लिए मिली अनुमति

हम आपको बताते चले कि शासन स्तर से कंपनी तय करने की अनुमति मंदिर कॉरिडोर के निर्माण के लिए प्रदान की जा चुकी है। गुरुवार शाम को मंदिर प्रशासन यह काम करेगा। एक कंपनी का नाम फाइनेंशियल बिड खोलकर सुनिश्चित कर दिया जायेगा। बुधवार को लखनऊ में एक बैठक भी इस काम के लिए रखी गई। जिसमें कॉरिडोर पर देर रात तक चर्चा चलती रही। इंडिया और अहमदाबाद की कंसलटेंट कंपनियों में से दो कंपनियां प्लानर श्रीकाशी विश्वनाथ मंदिर कॉरिडोर के निर्माण के लिए बुलाई गई है जो वहां पहुंच भी गई है। वहीं नियमनुसार टेंडर में कम से कम तीन कंपनी होनी चाहिए पर मंदिर प्रशासन ने शासन से अनुमति दो कंपनियों के आने पर ही मांगी थी। मंदिर के सीईओ विशाल सिंह ने बताया कि इसके लिए स्वीकृति मिल गई है।

Comments
Made with ♥ in Varanasi | Hosted on BlueHost
Copyright © 2018 Five Alphabets