07/08/2018 - वाराणसी - आरती सिंह

वाराणसी: मृत गोवंश मिलने से मचा हड़कम, लगाया जाम

traffic jam due to death cow

मोढ़(भदोही), वाराणसी: सोमवार की भोर में सड़क के किनारे मृत गोवंश मिलने से भदोही कोतवाली क्षेत्र के सियरहां गांव की नई बस्ती में आक्रोश व्यापत हो गया है। भदोही- दुर्गागंज मार्ग पर मौके पर जुटे ग्रामीणों ने जाम लगा दिया। प्रशासन के अधिकारी एवं पुलिस जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंच गए।

45 मिनट बाद ग्रामीणों को समझा-बुझाकर अफसरों ने जाम खत्म कराया। तीन युवकों को पुलिस द्वारा हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। पुलिस और पीएसी सुरक्षा के लिहाज से बस्ती में तैनात कर दी गई है। सियरहां गांव के लोगों ने सड़क किनारे पड़े मृत गोवंश को सुबह के तकरीबन छह बजे देखा। गांव में यह सूचना तेजी से फैल गई। फिर क्या था भदोही-दुर्गागंज मार्ग पर देखते ही देखते सैकड़ों लोग का जमावड़ा लग गया और रास्ते पर जाम लग गया। भदोही एवं सुरियावां पुलिस के अलावा थोड़ी देर बाद एएसपी डॉ. संजय कुमार भी मौके जा पहुंचे।

पुलिस द्वारा मौके से कुछ औजार जब्त किये गए

फिर उन्होंने गांववालों को समझा – बुझाकर करके शांत करवाया, तब जाकर जाम की समस्या खत्म हुई। पुलिस द्वारा कुछ औजार जब्त कर लिए गए है जो कि मौके से मिले है। आरोपियों का पता लगाने के लिए डॉग स्क्वॉड बस्ती तक गया पर कोई भी सुराग हाथ नहीं लग सका। बताया गया कि भानूपुर गांव के बिरजू पाठक का मृत गोवंश था। पुलिस द्वारा मामले से संबंधित तीन युवकों को जो की नई बस्ती के है को हिरासत में ले लिया गया है।

गांव में पुलिस एवं पीएसी को तनाव व्यापत होने के कारण तैनात कर दिया गया। हिंदू युवा वाहिनी के पदाधिकारियों ने मौके पर पहुंच चेतावनी दी है कि वह आंदोलन करेंगे यदि इस मामले की कड़ी कार्यवाही न हुई तो। तीन व्यक्तियों से पूछताछ का सिलसिला जारी है यह बात अपर पुलिस अधीक्षक डॉ.संजय कुमार ने कही। हो सकता है कि इस घटना की साजिश मौहोल खराब करने के लिए की गई हो। दोषी को क्षमा नहीं किया जाएगा। वहीं कई प्रश्न मृत गोवंश मिलने के कारण भी जा खड़े हुए हैं।

सावन के सोमवार की सुबह ऐसी घटना घटित होने से गावं वालों के साथ ही पुलिस को भी संदेह हो रहा है कि यह कोई साजिश तो नहीं मौहोल को खराब करने के लिए। फिलहाल ग्रामीणों को मौके पर पहुंची पुलिस ने शांत करा कर मामले को बिगड़ने से बचा लिया। गांववालो के गुस्से को देखते हुए पुलिस बल को तैनात कर दिया गया है।

पुलिस को शक है स्थानीय लोगों पर

हम आपको बताते चले कि हरिओम दूबे की एक भैंस सहित भानपुर गांव निवासी बिरजू पाठक के तीन गोवंश तीन महीने पहले चोरी हो गए थे। पुलिस की तरफ से कोई भी कार्रवाई शिकायत के बाद भी नहीं की गई थी। सियरहां में जो गोवंश मृत अवस्था में पाया गया था सुबह में वह बिरजू पाठक का ही था। पुलिस की माने तो इस साजिश को अंजाम माहौल खराब करने के लिए ही किया गया था। डॉग स्क्वॉड द्वारा बस्ती की ओर जाने के कारण स्थानीय लोगों पर ही पुलिस की निगाहे टिकी हुई हैं।

Comments
Made with ♥ in Varanasi | Hosted on BlueHost
Copyright © 2018 Five Alphabets