11/10/2018 - वाराणसी - आरती सिंह

पीएम के संसदीय क्षेत्र में कागज के टुकड़े पर लिख कर दिया तीन तलाक

triple talaq in varanasi

वाराणसी: पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र में ही उनके द्वारा किये गए प्रयास तीन तलाक के खिलाफ कानून बनने के बाद भी कागज के टुकड़े पर तीन बार लिख तलाक दिए जाने का मामला उजागर हुआ है।

विवाहिता ने कार्यवाई की रखी मांग

एक विवाहिता को उसके शौहर ने दहेज की मांग पूरी ना होने पर तलाक… तलाक… तलाक…एक कागज के टुकड़े पर लिख कर दे दिया। एसएसपी को इस मामले के संबंध में विवाहिता द्वारा प्रार्थना पत्र देकर न्याय की गुहार लगाई है एवं आरोपी शौहर के विरुद्ध कार्यवाई की मांग रखी है।

सामर्थ्य अनुसार दिया गया था सामान एवं नगदी

वहीं विवाहिता जो कि जैतपुरा थाना अंतर्गत काजी सादुल्लाहपुरा की के अनुसार फरवरी 2017 में निकाह हुआ था। पिता द्वारा निकाह के समय पर्याप्त सामान एवं नगदी सामर्थ्य अनुसार दिया गया था। पति, सास-ससुर, देवर एवं ननद पर ससुराल पहुंचते ही मायके से पांच लाख रुपये मंगवाने का दबाव बनाने लगे।

प्रताड़नाओं का दौर विवाहिता पर बढ़ा

सिर्फ इतना ही नहीं ससुराल पक्ष के लोगो द्वारा वो घटिया क्वालिटी का सामान लेकर आई है यह भी कहा जाने लगा। एक दो बार दबाव में आकर विवाहिता द्वारा मायके से पैसा मंगा कर शौहर को दिया गया जिस कारण उसकी मांग निरंतर बढ़ती ही चली गई। इन सबके बाद तो विवाहिता पर प्रताड़नाओं का दौर लगातार बढ़ता ही चला गया एवं उसके ससुराल वालों द्वारा उसे 22 सितंबर को कमरे में बंद कर दिया गया एवं उसे खाना देना भी बंद कर दिया।

सादे कागज पर विवाहिता से करवाएं दस्तखत

वहीं आरोप है कि मारपीट कर 23 सितंबर को विवाहिता को ससुराल से सादे कागज पर दस्तखत कराकर भगा दिया गया। विवाहिता जैसे तैसे मायके पहुंची एवं अपना इलाज करवाया। इस दौरान विवाहिता के पिता द्वारा उसके शौहर को फोन कर कहा गया कि वह इस मामले की शिकायत थाने में जाकर दर्ज करवाएंगे।

विवाहिता को धमकाया गया

इस पर विवाहिता का शौहर अपने ससुराल आया और विवाहिता को कागज के टुकड़े पर तलाक… तलाक… तलाक…लिख कर दे दिया। यह लिख कर देने के साथ ही उसने विवाहिता को धमकाया कि तलाक दे दिया है जो करना हो कर लो।

एसएसपी से लगाई न्याय की गुहार

विवाहिता के अनुसार उसने न्याय की गुहार एसएसपी से लगाई है और उनके द्वारा आश्वस्त दिया गया है कि मामले के संबंध में जांच कराकर कार्रवाई की जाएगी। इस मामले के बारे में इंस्पेक्टर जैतपुरा ने बताया कि हमारे थाने पर फिलहाल इस प्रकार की कोई भी तहरीर नहीं आई है। मामले के संबंध में पता लगाकर मुकदमा दर्ज कर उचित कार्रवाई की जाएगी।

Comments
Made with ♥ in Varanasi | Hosted on BlueHost
Copyright © 2018 Five Alphabets